GK-MCQ | भारत में डाक सूचनांक प्रणाली की शुरुआत कब हुई?

GK-MCQ

Question. 7:
भारत में डाक सूचनांक प्रणाली की शुरुआत निम्नलिखित में से कोनसे साल से हुई थी?
A) 1965
B) 1972
C) 1984
D) 1956
E) एक भी नहीं







ज्यादा जानकारी :
🔹भारत में डाक सूचनांक प्रणाली की शुरुआत 15 अगस्त 1972 से हुई थी. इसको श्रीराम भीकाजी वेलणकर ने प्रस्तुत किया था. 

🔹डाक सूचनांक प्रणाली एक एसी प्रणाली है जिसमे भारत के अलग-अलग स्थानों की पहचान करने के लिए अलग-अलग डाक सूचक अंक या पोस्टल इंडेक्स नंबर (PIN code) दिया जाता है.

🔹भारत में पोस्टल कोड 6(six) अंको का होता है. इस पोस्टल कोड का पहला अंक जॉन (zone) दर्शाता है. भारत में कुल 9 (nine) पोस्टल जॉन (zone) है. पोस्टल कोड का दूसरा अंक सब-जॉन (sub-zone) दर्शाता है. इस कोड का तीसरा अंक पहले और दूसरे अंक से मिलकर उस पोस्टल जॉन में किसी एक छंटाई करने वाले जिल्ले को दर्शाता है. और आखरी तीन अंक उस जिल्ले में स्थित अलग-अलग पोस्ट ऑफिस को दर्शाते है.

भारत के 9 पोस्टल जॉन (postal zone):
1 - दिल्ली, हरियाणा, पंजाब, हिमाचल प्रदेश, चंडीगढ़, जम्मू-कश्मीर

2 - उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड 

3 - राजस्थान, गुजरात, दीव और दमन, दादरा और नगर हवेली

4 - महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, गोवा, छत्तीसगढ़ 

5 - तेलंगाना, आंध्रप्रदेश, कर्नाटक 

6 - तमिलनाडु, केरल, पोण्डीचेरी, लक्षद्वीप 

7 - पश्चिम बंगाल, ओडिशा, अरुणाचल प्रदेश, नागालैंड, मणिपुर, मिज़ोरम, त्रिपुरा, मेघालय, अंडमान - निकोबार, सिक्किम, आसाम 

8 - बिहार, झारखंड 

9 - आर्मी पोस्ट ऑफिस और फील्ड पोस्ट ऑफिस